Top 10 similar words or synonyms for अबरख

आउन    0.483690

शहरपन    0.475930

cock    0.474688

कहव    0.472990

ठट    0.468049

जमऊ    0.467651

जनसन    0.464032

roth    0.463426

panoramic    0.461401

bog    0.461130

Top 30 analogous words or synonyms for अबरख

Article Example
झुमरी तिलैया झुमरी तिलैया एक समय अपने अबरख के खदानों के लिये मशहुर था। 1890 में कोडरमा के आसपाक रेल की पटरी बिछाने के क्रम में अबरख की खानों का पता चला, इसके आसपास से उत्तम किस्म का अबरख निकाला जाता
झुमरी तिलैया रहा है। CH Private Ltd. of छोटु राम भदानी और होरिल राम भदानी अबरख के खानों के अग्रज थे, जिन्हे माइका किंग भी कहा गया। वे अपने समय में अभ्रक खनन व निर्यात में सबसे अधिक हिस्सा रखते थे।
झुमरी तिलैया सबसे ज्यादा अबरख डोमचांच में मिलता जिसे सोवियत रूस USSR को निर्यात किया जाता था, जिसका प्रयोग वहां अंतरिक्ष और सैनिक कार्यो मे होता था। 1990 के दशक मे सोवियत रुस के विघटन और क्रृत्रिम अबरख की खोज होने से यहां के उधोगों को घाटा होने लगा और खदाने धीरे-धीरे बंद होने लगी। The huge mansions belonging to the mine owners, sprawling over acres of land, can still be found in the town. Mica Kings were still active in Jhumri Telaiya as of 2007.
गिरीडीह यह अबरख (Mica) एवं कोयला (Coal) जैसे खनिजों के लिए प्रसिद्ध है। जैनियों का प्रसिद्ध तीर्थस्थल पार्श्वनाथ भी इसि जिले में स्तिथ है, जो की जिला मुख्यालय से २६ किलोमीटर की दुरी पर है। झारखण्ड की राजधानी रांची से यहाँ की दुरी करीब २०५ किलोमीटर है। नोबेल पुरस्कार विजेता एवं महँ वैज्ञानिक सर जगदीश चन्द्र बोस भी यहीं से थे।
चेन्नई बंदरगाह यहाँ मुख्य निर्यात मूँगफली और इसका तेल, तम्बाकू, प्याज, कहवा, अबरख, मैंगनीज, चाय, मशाला, तेलहन, चमड़ा, नारियल इत्यादि हैं तथा आयात में कोयला, पेट्रोलियम, धातु, मशीनरी, लकड़ी, कागज, मोटर-साइकिल, रसायन, चावल और खाद्यान्न, लम्बे रेशे वाली कपास, रासायनिक पदार्थ, प्रमुख हैं। एक छोटा बंदरगाह रोयापुरम में भी है, जो स्थानीय मछुआरों और जलपोतों द्वारा प्रयोग होता है। पूर्वी तट पर चेन्नई की महत्त्वपूर्ण स्थिति ने प्राकृतिक सुविधा के अभाव में भी कृत्रिम व्यवस्था द्वारा एक पत्तन का विकास पाया है। एक बन्दरगाह होने के कारण कोलकाता, विशाखापट्टनम, कोलम्बों, रंगून, पोर्टब्लेटर आदि स्थानों से समुद्री मार्ग द्वारा सम्बद्ध है।
चेन्नई शहर में दो प्रधान सागरपत्तन (बंदरगाह) हैं, चेन्नई पोर्ट जो सबसे बडे कृत्रिम बंदरगाहों में एक है, तथा एन्नोर पोर्ट। चेन्नई पोर्ट बंगाल की खाड़ी में सबसे बड़ा बंदरगाह और भारत का दूसरा सबसे बड़ा सागरीय-व्यापार केन्द्र है, जहां ऑटोमोबाइल, मोटरसाइकिल, सामान्य औद्योगिक माल और अन्य थोक खनिज की आवाजाही होती है। मुम्बई के बाद भारत का यही सबसे बड़ा पत्तन है। इस कृत्रिम बन्दरगाह में जलयानों के लंगर डालने के लिए कंक्रीट की मोटी दीवारें सागर में खड़ी करके एक साथ दर्जनों जलयानों के ठहराने योग्य पोताश्रय बना लिया गया है। दक्षिणी भारत का सारा दक्षिण-पूर्वी भाग (तमिलनाडु, दक्षिणी आन्ध्रप्रदेश तथा कर्नाटक राज्य) इसकी पृष्ठभूमि है। यहाँ मुख्य निर्यात मूँगफली और इसका तेल, तम्बाकू, प्याज, कहवा, अबरख, मैंगनीज, चाय, मसाला, तेलहन, चमड़ा, नारियल इत्यादि हैं तथा आयात में कोयला, पेट्रोलियम, धातु, मशीनरी, लकड़ी, कागज, मोटर-साइकिल, रसायन, चावल और खाद्यान्न, लम्बे रेशे वाली कपास, रासायनिक पदार्थ, प्रमुख हैं। एक छोटा बंदरगाह रोयापुरम में भी है, जो स्थानीय मछुआरों और जलपोतों द्वारा प्रयोग होता है। पूर्वी तट पर चेन्नई की महत्त्वपूर्ण स्थिति ने प्राकृतिक सुविधा के अभाव में भी कृत्रिम व्यवस्था द्वारा एक पत्तन का विकास पाया है। एक बन्दरगाह होने के कारण कोलकाता, विशाखापट्टनम, कोलम्बों, रंगून, पोर्ट ब्लेयर आदि स्थानों से समुद्री मार्ग द्वारा सम्बद्ध है।